• नविन सूचना

    जेथे विज्ञान संपते तेथे आध्यात्म सुरू होते

    Thanks For Visiting Sunil Kanle Websites

    Monday, 16 November 2015

    जल्द आ रहा है स्वदेशी ज्ञान का भांडार

    दोस्तों मैं आपको जल्द ही अपने भारत देश में छुपे हूये
    ज्ञान का भांडार और स्वदेशी भारत की पहीचांन करवाना
    चाहता हूँ 
    प्रतीक्षा करें मैं जल्द ही लेकर आउँगा वो ज्ञान भांडार 
    जिससे आपको नाज होगा की, आप एक भारतीय हैं 
    जय हिंद !       जय  हिंद !      जय हिंद !

    No comments:

    Post a Comment


    येथे वरील पोस्टच्या विषया संदर्भांतच टिप्पणी कराव्यात,
    चुकीच्या शब्दाचा वापर केल्यास टिप्पणी काढून टाकल्या जातील !

    See Google Maps

    माझा परिचय

    माझा परिचय
    दोस्तों मैं एक सीधा साधा और भोला भाला लडका हॅू। मेरा दिल स्वदेश और स्वदेशी प्रती आस्था रखता हैं। मुझे पढना लिखना पसंद है, और मिला हुआ ज्ञान लोंगो को बाँटना मुझे अच्छा लगता है। भारत के युवाओंको प्रेरित करना और उन्हे स्वदेश के प्रती जागरूक करना मैं मेरा कर्तृव्य मानता हॅू, और इसे मैं आखिर तक निभाता रहॅूगा। वंदे मातरम् ! जय हिंद !

    माझे ॲप डाऊनलोड करा